Thursday, December 1, 2022
Homeब्लॉग BLOGINGblog kaise banaye ? blogging kaise kare ?

blog kaise banaye ? blogging kaise kare ?

दोस्तो दिन ब दिन ब्लॉगिंग की पोपुलरिटी बढ़ती ही जा रही है। youtube हो या google जहा वह ब्लॉगिंग की ही चर्चा है। दोस्तो ब्लॉगिंग एक online earning करने का सबसे बढ़िया प्लैटफ़ार्म है जहा काफी मेहनत है मगर पैसा भी उतना ही जादा मिलता है।

हमारे देश मे कई सारे ऐसे लोग है जो blogging करना चाहते है मगर उनको समज नहीं आता की आखिर कहा से शुरु करे। ब्लॉगिंग शुरू करने से पहले आपको ये जानना जरूरी है की आखिर ब्लॉगिंग क्या है ? इस लिए आपको मेरा पिछला पोस्ट पढ्न होगा।

ब्लॉगिंग शुरू करने के लिए क्या क्या जरूरी है ?

ब्लॉगिंग शुरू करने के लिए हमे कुछ बातो पे ध्यान देना होगा।जैसे की

  • niche(टॉपिक )
  • domain name
  • cloud hosting
  • writing skill
  • computer या laptop
  • time
  • Patience

दोस्तो अगर ऊपर दिये गए सारे जरूरत को पूरे कर सकते हो तब ही आप ब्लॉगिंग कर सकते हो।ऐसा नहीं की youtube पे विडियो देखा ओर income देखा कर फट से ब्लॉगिंग शुरू कर दी। बिना जानकारी के ब्लॉगिंग मतलब आपका ब्लॉग कभी sucess नहीं होपाए गा ओर आप निराश होके ब्लॉगिंग छोड़ दोगे। इस लिए मैं आपको कुछ स्टेप बाय स्टेप जानकारी देने वाला हु ताकि ब्लॉगिंग करना आपको आसान हो जाए।

ब्लॉगिंग के लिए आप ब्लॉगिंग प्लैटफ़ार्म का इस्तेमा कर सकते हो जो google के तरफ से बिलकुल फ्री है।या आप पैसे खर्च करके domain name ओर hosting खरीदके blogging कर सकते हो। मेरी ये राय है की आप पैसे खर्च करके domain name ओर hosting खरीदके ब्लॉगिंग शुरू करो।

ब्लॉगिंग शुरू करने की क्या क्या प्रोसैस है ?

आपको मैं ब्लॉगिंग की शुरुआती प्रोसैस बताने वाला हु।

niche (टॉपिक)| niche meaning in hindi

सबसे पहले आपको एक बात का ध्यान रखनाहइ की आप ब्लॉगिंग क्यू करना चाहते हो। आपको कोई एक टॉपिक सिलैक्ट करना होगा जिस पर आप article लिख सके। याद रहे की जो आपको पसंद है उसको ही आप अपना टॉपिक चुने । अगर टॉपिक आपको पसंद होगा तो आप उस टॉपिक पर लंबे समय तक कम करने मे मजा अजाएगा। टॉपिक कोनसा भी हो आपके article महत्वपूर्ण है। वैसे तो micro niche या multi-niche टॉपिक को आप सिलैक्ट कर सकते हो।

domain name | what is domain ?

एक डोमेन नाम एक पहचान स्ट्रिंग है जो इंटरनेट के भीतर प्रशासनिक स्वायत्तता, अधिकार या नियंत्रण के दायरे को परिभाषित करता है। डोमेन नाम का उपयोग विभिन्न नेटवर्किंग संदर्भों में और अनुप्रयोग-विशिष्ट नामकरण और पते के उद्देश्यों के लिए किया जाता है

एक बार आपकी टॉपिक (niche) सिलैक्ट करने के बाद आपको उस टॉपिक (niche) के नाम से मिलता जुलता एक domain name खरीदना है। इस से usars को पता चल जाता है की ये वैबसाइट किस टॉपिक से संबंदीत है ।

कई सारी domain कंपनी आपको डोमैन देती है।जैसे की godaddy domain सबसे बढ़िया है जो आपको hosting भी देती है।अगर आप godaddy की hosting खरीदते हो तो आपको domain name बिलकुल फ्री मिल जाता है।आप godaddy.com पे जाके अपना account बनाए ओर उनके प्लान को ध्यान से देखे ओर आपको जो पसंद है उस प्लान को आप खरीद सकते हो।

hosting (cloud ) what is hosting ?

डोमैन लेने की बाद आपको होस्टिंग लेना जरूरी है होस्टिंग ब्लॉगिंग मे काफी महत्व पूर्ण है।

एक वेब होस्टिंग सेवा एक प्रकार की इंटरनेट होस्टिंग सेवा है जो व्यक्तियों को वर्ल्ड वाइड वेब के माध्यम से अपनी वेबसाइट को सुलभ बनाने की अनुमति देती है “

होस्टिंग मे share hosting,dedicated hosting ओर cloud hosting आते है। cloud होस्टिंग सबसे बढ़िया है जो आपको काफी सारे features प्रदान करते है। वैसे तो क्लाउड होस्टिंग सबसे costly है मगर कई सारे कंपनिया हमे काफी सस्ते मे भी देती है।

वैसे तो blue host, hostinger,resellerclub जैसे hosting प्रोवाइडर कंपनिया है जो होस्टिंग देती है।अगर आपको सस्ता ओर powerful cloud hosting प्लान चाहिये तो आप https://www.hostfizia.com/ पे जाके खरीद सकते हो ये भारत की top hosting कंपनी है।

आपको अपनी वैबसाइट को wordpress पे बना न है क्यूकी wordpress काफी आसान है ब्लॉगिंग के लिए। इस लिए आपको wordpress को इन्स्टाल करना होगा। कई सारे hostinger provider आपको पहले ही wordpress को इन्स्टाल कर देते है।

Domain को hosting से कनैक्ट करना ?

एक बार अपने डोमैन ओए होस्टिंग खरीद लिया तो आगे आपको डोमैन ओर होस्टिंग को कनैक्ट करना है।एक बार कनैक्ट होने के बाद आप अपनी वैबसाइट को access कर पाएंगे।अगर आप होस्टिंग ओर डोमैन को एक ही कंपनी से खरीद ते हो तो फिर आपको manually कनैक्ट करने की जरूरत नहीं है वो automatic कनैक्ट ही रहते है।

या फिर डोमैन लेने के बाद आप जब कोई होस्टिंग खरीद ते है तो आपको पके डोमैन नेम को पूछा जाता है जैसे है आप अपना डोमैन नेम fill करते हो तब आपको hosting ओर domain कनैक्ट हो जाते है।

Name server change करना

आप जब डोमैन खरीदते हो तब आपको एक name server मिलता है ओर जब आप hosting खरीदते हो तब आपको hosting का name server मिलता है।आप अपना डाटा होस्टिंग पे स्टोर करेंगे तो इस लिए कोई भी आपके domain name पे क्लिक करेगा तो वो होस्टिंग पे redirect होना चाहिये इस लिए आपको आपके डोमैन का name server को hosting के name server के साथ चेंज करना है। चेंज करते ही 24 घंटे मे आपका डोमैन काम करने लगेगा।

website को तैयार करना ? website kaise banaye ?

domain को hosting से कनैक्ट करने के बाद आपको आपकी वैबसाइट को डिज़ाइन करना होगा।आप कोई भी wordpress की फ्री थीम का इस्तेमाल कर सकते हो जो आपको पसंद आए। आपको हैडर फूटर को अस्छे तरीके से डिज़ाइन करना होगा। header पे मेनू को बनान होगा ओर फूटर मे आपको about us,privecy policy,term & condition ये 3 पेज बनाने होंगे।


आपको आपकी वैबसाइट को google webmaster tool मैं verified करना होगा। robot .txt ओर xml site map को generate करना होगा।जरूरी plugins को इन्स्टाल करना होगा।

पोस्ट को लिखना ? blog kaise likhe ?

एक बार आपकी वैबसाइट खुलने बाद मैं आपका महत्वपूर्ण काम है पोस्ट लिखना। आपको unique post लिखना जरूरी है किसिका कॉपी करके न लिखे। article जितना unique होगा उतना ही वो google मे rank करेगा।

पोस्ट लिखते समय ये आयड रखे की आपकी पोस्ट कम से कम 800 से लेके 1200 words की हो। पोस्ट लिखते समय पोस्ट के भीतर internal linking डालना जरूरी है एक पोस्ट मे कम से कम 8 internal link डालना जरूरी है।

nternal link के साथ साथ कम से कम 1 external link डालना जरुरी है try करे की external link ज्यादा से ज्यादा किसी बड़े वैबसाइट से ले। पोस्ट पूरी होने के बाद आपको पोस्ट related keyword tag मैं डालने है ताकि ranking मे आसानी हो। पोस्ट मे images डालना जरूरी है मगर याद रहे images copyright free होना जरूरी है।

याद रहे किसी भी पोस्ट को लिखने से पहले आपको keyword resarch करना जरूरी है तब जाके आपकी पोस्ट rank हो सकती है।

पोस्ट पब्लिश करने के के बाद अप उस पोस्ट पे backlink बना ने की कोशिश करे ताकि आपकी पोस्ट google मैं rank करे। proper keyword research ही आपकी पोस्ट ओर वैबसाइट के traffice को बढ़ा देती है।
ये याद रहे की पोस्ट पब्लिश होने के बाद तुरंत ही वो rank नहीं करेगी आपको कुछ महीने इंतजार करना होगा ओर इस दौरान आपको backlink बनाने पे ध्यान देना है। कोशिश करे की अप अगर नए हो तो आपको हर रोज नयी पोस्ट डाले।

blogging se paise kaise kamaye? adsense का approval लेना ?

अगर हमे वैबसाइट से पैसे कमाने है तो आपको google adsense का approval लेना जरूरी है ।जब आपकी वैबसाइट को 1 महिना ओर कम से कम 20 पोस्ट होजाए तो adsense के लिए apply कर सकते हो।

apply करने से पहले आपको एक code आपकी वैबसाइट मे पेस्ट करन होता है जो आपको आपकी adsense अकाउंट मे मिल जाए गा।आपको approval मिल जाएगा। अप्रोवल मिलने के बाद आपको add का code आपकी वैबसाइट मे पेस्ट करना है।

ब्लॉगिंग मे sucess होने के लिए आपको निरंतर काम करना होगा ओर ध्यान रहे की किसी भी वैबसाइट को रैंक होने कीलिए काम से काम 1 साल तो लगता ही है। बिना फल की चिंता किए अगर आप ब्लॉग लिखोगे तो आपको सफलता जरूर मिलेगी।



दोस्तो ध्यान फ्ढ्ने के लिए आपका आभारी हु। मे आपके लिए पूरी मेहनत से जानकारी जुटाने की कोशिश करता हु ओर करता रहूँगा। मे खुश हु की आपको कुछ सीखने को मिल रहा है।मे आशा करता हु की आप मेरे वैबसाइट पे बने रहेगे।

अगर जानकारी कुछ कमी है,या फिर कुछ गलत है या आपको ओर जानकारी चाहिए तो आप मुझे कमेंट के जरिये बता सकते हो।मे आपकी सहायता मे हर वक़्त हाजिर हु।

||वंदे मातरम||

Most Popular