Sunday, July 3, 2022
Homeब्लॉग BLOGINGlink juice क्या है ?

link juice क्या है ?

what is link juice ?

जब हमारी वैबसाइट या कोई वेबपेज dofollow लिंक से किसी दूसरे वैबसाइट या वेबपेज से लिंक होता है तब उस वैबसाइट से हमारे वैबसाइट को कुछ वैल्यू या कुछ पॉइंट्स या फिर इक्विटि मिल जाती है उसे ही seo की भाषा मे link juice कहते है।

जितना ज्यादा लिंक होगा उतना ही ज्यादा link juice हम कमा सकते है।इसे हम internal linking से काफी हद तक बढ़ा सकते है।अगर आपको किसी को लिंक जूस देना है तो अप dofollow लिंक के जरिये दे सकते हो या फिर नहीं देना है तो अप nofollow लिंक दे सकते हो।
वैबसाइट के पूरे internal or external लिंक के टोटल value को लिंक जूस कहते है।

सर्च इंजिन जब सर्च करता है तब वो जो लिंक जूस हमारे वैबसाइट पे पास हुई है उस value को हमारी वैबसाइट की वैल्यू मानता है जिसका काफी फायदा हमारे साइट को मिलता है।यानि जितना ज्यादा लिंक जूस उतनी ज्यादा साइट की वैल्यू बढ़ जाती ही।

लिंक जूस की वैल्यू निर्धारित करना।

लिंक जूस की वैल्यू एक जैसे नहीं होती,आपको जिस वैबसाइट से लिंक जूस मिलरहा है उस वैबसाइट के reputation या गूगल मे उसकी क्या वैल्यू है उस पर निर्भर करती है।
यहां आपकी अपनी साइट और अन्य के लिंक जूस को मापने के लिए अलग-अलग मीट्रिक उपलब्ध हैं।

Google PageRank वह एल्गोरिथ्म है जिसका उपयोग Google लिंक जूस को मापने के लिए करता है लेकिन Google PageRank नंबर अब सार्वजनिक रूप से उपलब्ध नहीं हैं। कई SEO उपकरण अपने स्वयं के लिंक जूस डेटा प्रकाशित करते हैं और सटीक संख्या प्राप्त करने के लिए कारगर होते हैं,जैसे की MOZ RANKING TOOL

लिंक जूस कैसे बनाए।

लिंक जूस बनाने के लिए आपको लिंक बिल्डिंग करना होता है उन लिंक को backlink भी कहते है। लिंक बिल्डिंग दो तरीकोसे क्यी जाती है जैसे की।

direct link building
indirect link building
  • direct link building मे आपको डाइरेक्ट्लि लिंक को बनाना होता है जैसे की article submission,guest posting,commenting,blogs ,local directory submission etc जिस लिंक को manually बनाया जाता है उसको direct link कहते है।
  • indirect link building मे आपको indirectly लिंक मिल जाती है।मानलो की किसी वैबसाइट ओनर को आपका article ज्यादा पसंद आजाता है तो वो अपने आर्टिक्ल से आपके आर्टिक्ल तक एक लिंक दे देता है उसे indirect link कहते है।

असल मे लिंक जूस का मुख्य स्त्रोत आपकी वैबसाइट के पेज है। आपके असाधारण article लिंक जूस को आकर्षित करता है।article जितना बढ़िया होगा उतना ही लिंक जूस आपके वैबसाइट पे जमा हो जाएगा।

dofollow link बनाने से ज्यादा लिंक जूस का flow आप अपने वैबसाइट पर ला सकते हो। quality backlink से आपको ज्यादा वैल्यू वाला लिंक जूस मिल सकता है।

Nofollow लिंक आप को लिंक जूस लाने मे शायद काफी कम हद तक सहायता कर सकते है या फिर नहीं भी।मगर अपने लिंक जूस की मात्रा कम होने से बचाने मे थोड़ी सहायता करते है या नहीं भी।

ये भी पढे 

what is backlink?बॅकलिंक क्या है ?

लिंक जूस कैसे काम करता है

अप देख रहे हो की ऊपर diagram मे साइट X.COM ओर साइट Z.COM है।

condition 1

X.COM को 4 वैबसाइट लिंक जूस का supply कर रहे है ओए 4 रो की ranking वैल्यू समान है।

Z.COM को 3 वैबसाइट लिंक जूस का supply कर रहे है ओर 3 नो की ranking समान है।

इस कंडिशन मे X.COM को ज्यादा लिंक जूस मिलेगा ओर Z.COM को थोड़ा कम लिंक जूस मिलेगा।

condition 2

X.COM को 4 वैबसाइट लिंक जूस का supply कर रहे है ओए 4 रो की ranking वैल्यू समान है।

Z.COM को 3 वैबसाइट लिंक जूस का supply कर रहे है ओर 3 नो की ranking ज्यादा है।

इस कंडिशन मे X.COM को कम लिंक जूस मिलेगा ओर Z.COM को ज्यादा लिंक जूस मिलेगा।

इस से ये साबित होता है की आप ज्यादा ranking वाले वैबसाइट से लिंक बनाने की कोशिश करो।भले ही लिंक कम हो मगर क्वालिटी वाले होने चाहिए।

Link Sculpting क्या है?

Link Sculpting एक ऐसी प्रोसैस है जिस मे लिंक जूस को नियंत्रित करने की कोशिश क्यी जाती है। ये एक वैबसाइट के पेज रैंक मे हेराफेरी करनी की प्रक्रिया है। इस मे nofollow link का इस्तेमाल करके लिंक जूस को पेज पर बनाए रखते है उसे leak नहीं होने देते।ये तकनीक आपके page rank को बनाए रखता है ओर google search मे आपके वैबसाइट की वैल्यू बढ़ जाती है।ये आपकी वैबसाइट से link juice loss नहीं होने देता।

ऊपर के diagram मे दो conditions है।

condition 1

external website 4 दूसरे वैबसाइट को लिंक जूस दे रही है 4 वैबसाइट को समान मात्र मे लिंक जूस मिल रहा है। ये चारो वैबसाइट dofollow link से लिंक है।

अगर external website से 4 से ज्यादा वैबसाइट को भी अगर लिंक जूस जाता है तो वो उन सब को समान मात्र मे मिलेगा क्यूकी लिंक जूस का flow हर एक वैबसाइट को समान मात्र मे होता ही।

condition 2

external website se 4 वैबसाइट को लिंक जा रहा है मगर उन मे से D वैबसाइट nofollow link से लिंक है ओर बाकी A,B,C, dofollow link se लिंक है। इस लिए A,B,C, को समान मात्र मे लिंक जूस जा रहा है ओर D को लिंक जूस नहीं मिल रहा है।

क्यूकी वैबसाइट D nofollow link से लिंक है ओर nofollow लिंक से लिंक जूस का supply नहीं हो पता है।

D वैबसाइट का लिंक जूस बंद होने के बावजूद भी वैबसाइट A,B,C को मिलने वाले लिंक जूस मे कोई भी बदलाव नहीं हुआ है ओर नहीं D वैबसाइट के हिस्से का लिंक जूस उनको मिल पाया।मगर वैबसाइट D के हिस्से का लिंक जूस तो निकला जरूर है मगर वो वैबसाइट D को मिलने के बजाय waste हो गया ओर इसे ही SEO की भाषा मे waste of link juice कहते है।

condition 3

अगर वैबसाइट D के बजाय वहा पे वैबसाइट A,B,C ही होते तो तीनों को ज्यादा लिंक जूस मिल जाएगा क्यू की वैबसाइट D वह पे नहीं है ओर नहीं कोई nofollow link है।

पर अपने जीतने भी nofollow internal link अपने वैबसाइट के पेग पर बनाई है उस से आपके लिंक जूस पर कोई भी असर नहीं पड़ता है ओर नहीं लिंक जूस waste होता है।लिंक जूस का संबंद inbound ओर outbound लिंक से होता है।आपको लिंक बनाते समय ये ध्यान मे रखना है की जिस साइट पर ज्यादा external links है वहा पे आपको backlink नहीं बनाना है।अगर बनाते हो तो वहा से आपको कम लिंक जूस मिलेगा।

ज्यादा से ज्यादा nofollow links के मदत से आपको अपने वैबसाइट से लिंक जूस waste होने से बचाना है।

दोस्तो ध्यान फ्ढ्ने के लिए आपका आभारी हु। मे आपके लिए पूरी मेहनत से जानकारी जुटाने की कोशिश करता हु ओर करता रहूँगा। मे खुश हु की आपको कुछ सीखने को मिल रहा है।मे आशा करता हु की आप मेरे वैबसाइट पे बने रहेगे।

अगर जानकारी कुछ कमी है,या फिर कुछ गलत है या आपको ओर जानकारी चाहिए तो आप मुझे कमेंट के जरिये बता सकते हो।मे आपकी सहायता मे हर वक़्त हाजिर हु।

||वंदे मातरम||

Most Popular